68500 Assistant Teacher Samaas Study Material in Hindi

68500 Assistant Teacher Samaas Study Material in Hindi

68500 Assistant Teacher Samaas Study Material in Hindi

समास

अतिलघु उत्तरीय प्रश्न

Very Short Question Answer

68500 Assistant Teacher Samaas Study Material in Hindi
68500 Assistant Teacher Samaas Study Material in Hindi

प्रश्न – समास किसे कहते हैं?

उत्तर – दो या दो से अधिक शब्दों के योग को समास कहते हैं। समास के द्वारा विभक्ति सहित शब्द संधि के नियम द्वारा परस्पर मिला दिये जाते हैं जिससे एक नया शब्द बन जाता है।

प्रश्न – समास के कितने भेद होते हैं?

उत्तर – समास के मुख्यत: छ: भेद होते हैं-

  1. अव्ययी भाव समास
  2. तत्पुरुष समास
  3. कर्मधारय समास
  4. द्विगु समास
  5. बहुव्रीहि समास
  6. द्वन्द्व समास

प्रश्न – तत्पुरुष समास किसे कहते हैं?

उत्तर – तत्पुरुष समास का पहला पद गौण होता है और अंतिम पद की प्रधानता होती है और सामान्यतया प्रथम पद विशेषण और दूसरा पद विशेष्य होता है। इस समास के पहले पद में द्वितीया से सप्तमी कारक तक की विभक्ति का लोप होता है।

प्रश्न – कर्मधारय समास किसे कहते हैं?

उत्तर – जिस समास के पदों में विशेष्य-विशेषण अथवा उपमेय-उपमान का सम्बन्ध होता है, तो उस कर्मधारय समास कहते हैं। इसमें खास विशेषता यह होती है कि विशेषण पहले होता है।

प्रश्न – द्विगु समास किसे कहते हैं?

उत्तर – जिस समास में प्रथम पद संख्यावाची होता है और उससे समूह का बोध होता है, उसे द्विगु समास कहते हैं।

प्रश्न – बहुव्रीहि समास किसे कहते हैं?

उत्तर – बहुव्रीहि समास में प्रयुक्त दोनों पदों के अलावा किसी तीसरे पद की प्रधानता होती है। इसमें समासगत पदों में कोई भी प्रधानता नहीं होती है। अपितु समस्त पद ही किसी दूसरे पद का विशेषण होता है।

प्रश्न – द्वन्द्व समास किसे कहते हैं?

उत्तर – द्वन्द्व समास में दोनों पद प्रधान होते हैं और इसमें अवयव शब्दों के बीच समुच्चय बोधक अव्यय “और” अथवा “या” का लोप हो जाता है।

प्रश्न – तुलसीकृत में कौन-सा समास है?

उत्तर – तुलसीकृत में प्रथम खंड मात्र विशेषण है और उत्तरपद प्रधान है। तुलसी द्वारा बनाया गया में कारक चिन्ह लोप होने के कारण यह तत्पुरुष समास है।

प्रश्न – रसोईघर में कौन-सा समास है?

उत्तर – रसोईघर में तत्पुरुष समास है, जिसे चतुर्थी तत्पुरुष कहा जाता है। रसोईघर रसोई का घर है।

प्रश्न – पुरुषोत्तम में कौन-सा समास है?

उत्तर – यह तत्पुरुष समास के सप्तमी तत्पुरुष (अधिकरण तत्पुरुष) के अंतर्गत आता है। जिस समास में अंतिम पद प्रधान होता है, तत्पुरुष समास कहलाता है। पुरुषोत्तम का अभिप्राय है, जो पुरुषों में उत्तम है।

प्रश्न – आजन्म शब्द में कौन-सा समास है?

उत्तर – आजन्म शब्द में जन्म की विशेषता ‘आ’ शब्द से बताई गयी है। प्रथम खंड की प्रधानता होने के कारण यहाँ अव्ययीभाव समास है।

प्रश्न – चौराहा शब्द में कौन-सा समास है?

उत्तर – चौराहा में द्विगु समास होता है।

प्रश्न – यथाशक्ति में कौन-सा समास है?

उत्तर – यथाशक्ति में प्रथम खंड की प्रधानता होने के कारण अव्ययीभाव समास है।

प्रश्न – महापुरुष में कौन-सा समास है?

उत्तर – जब एक खंड उपमासूचक या विशेषण हो, तो वहां कर्मधारय समास होता है। अत: महापुरुष में कर्मधारय समास है।

प्रश्न – गुणहीन में कौन-सा समास है?

उत्तर – गुणहीन का समास विग्रह है – ‘गुण से हीन’। इसमें करण कारक का प्रयोग है, अस्तु करण तत्पुरुष (तृतीया तत्पुरुष)। करण तत्पुरुष के अन्य उदाहरण हैं- वाग्युद्ध, तुलसीकृत इत्यादि।

प्रश्न – ‘श्यामसुंदर’ में कौन सा समास है?

उत्तर – श्यामसुंदर में प्रथम पद विशेषण है। जिस समास के विग्रह में दोनों पदों के साथ एक ही कर्ता कारक की विभक्ति आती है, उसे कर्मधारय समास कहा जाता है। अत: श्यामसुंदर में कर्मधारय समास है।

Join Our CTET UPTET Latest News WhatsApp Group

Like Our Facebook Page

Leave a Comment

Your email address will not be published.