M1 R4 Computer Appreciation विकास study Material Notes in Hindi

M1 R4 Computer Appreciation विकास study Material Notes in Hindi

M1 R4 Computer Appreciation विकास study Material Notes in Hindi:- इस पोस्ट में आपकों मिलेगी कम्प्यूटर ऐप्रीसिएशन (कम्प्यूटर का विकास) और बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कम्प्यूटर क्या है? और ऐनालॉग कम्प्यूटर, डिजिटल कम्प्यूटर की आदि के विशष में महत्वपूर्ण जानकारी।

कम्प्यूटर ऐप्रीसिएशन (कम्प्यूटर का विकास)

कम्प्यूटर क्या है? (M1 R4 Computer Appreciation विकास study Material Notes in Hindi)

M1 R4 Computer Appreciation विकास study Material Notes in Hindi
M1 R4 Computer Appreciation विकास study Material Notes in Hindi

कम्प्यूटर मानव द्वारा निर्मित एक अत्यंत उपोयगी इलेक्ट्रॉनिक मशीन है। कम्प्यूटर्स ने हमारे दैनिक जीवन को काफी प्रभावित किया है। चाहें घर हो या स्कूल, कॉलेज, ऑफिस, उद्दोग, हॉस्पिटल, बैंक, रिटेल स्टोर, रेलवेज रिसर्च एवं डिजाइन संस्थान, इत्यादि प्रत्येक क्षेत्र में हम इसकी उपस्थिति का अनुभव कर सकते हैं।

एक कम्प्यूटर मूल रूप से एक प्रोग्राम की जा सकने वाली कप्यूटिंग मशीन है। पहले कम्प्यूटर्स का प्रयोग जटिल गणनों के लिए होता था और उन्हें केवल वैज्ञानिक एवं इंजीनियर ही इस्तेमाल कर सकते थे। ये काफी मँहगे होते थे अत: कुछ बड़े संस्थान ही इन्हें खरीद सकते थे। ये काफी मँहगे होते थे अत: कुछ बड़े संस्थान ही इन्हें खरीद सकते थे सेमी कंडक्टर डिवाइसिस जैसे माइक्रोप्रोसेसर आदि की डिजाइन एवं बनावट में हुए तकनीकी विकास ने ऐसे शक्तिशाली माइक्रों कम्प्यूटर्स के निर्माण को छोटे संस्थान एवं व्यक्तिगत पहुँच के अंदर संभव बनाया। ये कम्प्यूटर चूँकि गणना करने में बहुत तेज हैं, अत: इनका प्रयोग ना केवल गणनाओं में होता है बल्कि नका प्रयोग सूचना को स्टोर करके उसे पुन: प्राप्त करने के लिए भी होता है। ये रासायनिक प्रक्रियाओं एवं मशीनों को नियत्रित करते हैं। ये भौतिक एवं वैद्दुतिक वस्तुओं को माप करह नकों प्रदर्शित करने के साथ ही इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से फोटोग्राफ भी भेज सकते हैं।

M1 R4 Computer Appreciation विकास study Material Notes in Hindi

कम्प्यूटर शब्द की उत्पत्ति कम्प्यूट शब्द से हुई है जिसका अर्थ है गणना करना। अत: एक कम्प्यूटर को आम तैर पर गणना करने वाली डिवाइस माना गया है जो अत्यंत तेजी से ऐरिथमैटिक ऑपरेशन्स को संचालित कर सकती है। किंतु अधिक शुद्धता से कम्प्यूटर को एक ऐसे डिवाइस के रूप में परिभाषित किया जा सकता है जो डाटा के ऊपर कार्तय करती है। डाटा कुछ भी हो सकता है। उदाहरण के तौर पर जब हम कम्प्यूटर का उपयोग लोगों को रोजगार दिलाने के लिए करते हैं तो डाटा कई आवेदकों का बायोड़ाटा हो सकता है। इसी प्रकार ड़ाटा यात्रियों का पूरा विवरण जैसे नाम, आयु आदि भी हो सकता है, जब हम कम्प्यूटपर का उपयोग रेलवें अथवा एयरलाइन्स के आरक्षण के लिए कर रहे हों।

एक कम्प्यूटर डाटा को केवल स्टोर करके प्रोसेस ही नहीं करता है बल्कि यह डाटा को रिट्रीव भी करता है अर्थात जब भी जैसे भी आवश्यकता हो तब डाटा को इसकी मेमोरी या स्टोरेज से बाहर निकाल सकते हैं। अत: कम्प्यूटर एक आम शब्द है जो विभिन्न प्रकार की गतिविधियों के लिए इस्तेमाल होने वाली एक इलेक्ट्रॉनिक डाटा प्रोसेसिंग मशीन की ओर इशारा करता है।

दो मूल प्रकार के कम्प्यूटर निम्न है:

ऐनालॉग (Analog)

डिजिटल (Digital)

 M1 R4 ऐनालॉग कम्प्यूटर्स (Analog Computers)  Study Material in Hindi

ऐनालॉग कम्प्यूटर्स ऐसी सूचनाओं को हैडल या प्रोसेस करते हैं जो भौतिक प्रकृति की होती है जैसे तापमान, दबाव आदि। ये ऐनालॉग या समकक्ष भौतिक मानों को मापने पर आधारित होती है।

M1 R4 डिजिटल कम्प्यूटर्स (Digital Computers) Study Material in Hindi

डिजिटल कम्प्यूटर्स ऐसी सूचनाओं को प्रोसेस करते हैं जो अनिवार्य रूप से बाइनरी या टू स्टेट फॉर्म में होती है जैसे ‘0’ और ‘1’ जब हम कम्प्यूटर्स की बात करते हैं तो हम आमतौर पर डिजिटल प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक मशीनों की बात करते हैं तो हम आमतौर पर डिजिटल प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक मशीनों की ओर ही इशारा करते हैं। डिजिटल कम्प्यूटर्स माइक्रो कम्प्यूटर्स माइक्रो कम्प्यूटर्स, मिनी कम्प्यूटर्स, मेनफ्रेम एवं सुपर कम्प्यूटर्स के अंतर्गत आते हैं जो आकार के अनुसार नीचे से ऊपर के क्रम में वर्गीकृत हैं अर्थात् छोटा मध्यम बड़ा और बहुत बड़ा।

Life Our Facebook Page

See Also : O Level Study Material Notes Sample Model Practice Question Papers with AnswersO Level

Leave a Comment

Your email address will not be published.