NIELIT DOEACC CCC Deleting Rows or Columns Study Material Notes in Hindi English

NIELIT DOEACC CCC Deleting Rows or Columns Study Material Notes in Hindi English

NIELIT DOEACC CCC Deleting Rows or Columns Study Material Notes in Hindi English : Course on Computer Concept (CCC) March April 2019 Important Study Material & Notes in English Hindi.
NIELIT DOEACC CCC GUI Based Operating System Study Material Notes in Hindi English
NIELIT DOEACC CCC Deleting Rows or Columns Study Material Notes in Hindi English

NIELIT DOEACC CCC Deleting Rows or Columns Study Material Notes in Hindi English

रो तथा कॉलम डिलीट करना (Deleting Rows or Columns) बीच में इन्सर्ट करने की तरह ही वर्कशीट का कोई भी भाग (पंक्ति, कॉलम या रेंज) उसमे से डिलीट किया जा सकता है | इसे करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स है- प्रथम विधि रो अथवा कॉलमो को इस प्रकार डिलीट किया जा सकता है- (i) Choose the rows or columns you want to delete. (ii) From context menu, give clear contents command and the rows/columns will be deleted. दूसरी विधि (i) Choose the cells or a range of cells, you want to delete. (ii) Click ‘right’ from mouse and choose ‘Delete’ option. Go to Home Tab – Delete tool in cells group, then select Delete Sheet Ro/Column and click right on Row header/column header then click Delete. यदि यूजर ने वर्कशीट के किसी भाग (पंक्तियाँ, कॉलम या सैल) को गलती से डिलीट कर दिया है, तो तत्काल Undo आदेश देकर उन्हें वापस लाया जा सकता है | कॉलमस की विड्थ तथा सैल्स की हाईट बदलना (Changing Width of Columns and Height of Cells) (i) Go to Home tab – Cells group – Format drop down list – Column click on width. A column width dialog box will appear. (iii) Choose the appropriate option from given four radio buttons. Click ok. इससे चुनी हुई रेंज की जगह खाली सैल आ जाएगी और उससे प्रभावित होने वाली सैले सेटिंग के अनुसार वर्कशीट को व्यवस्थ्ति कर देंगी | रो तथा कॉलम डिलीट करना (Deleting Rows or Columns) बीच में इन्सर्ट करने की तरह ही वर्कशीट का कोई भी भाग (पंक्ति, कॉलम या रेंज) उसमे से डिलीट किया जा सकता है | इसे करने के लिए निम्नलिखित स्टेप्स है- प्रथम विधि रो अथवा कॉलमो को इस प्रकार डिलीट किया जा सकता है- (i) Choose the rows or columns you want to delete. (ii) From context menu, give clear contents command and the rows/columns will be deleted.

दूसरी विधि (i) Choose the cells or a range of cells, you want to delete. (ii) Click ‘right’ from mouse and choose ‘Delete’ option. Go to Home tab – Delete tool in cells group, then select Delete Sheet Row/Column and click right on Row header/Column header then click Delete. यदि यूजर ने वर्कशीट के किसी भाग (पंक्तियाँ, कॉलम या सैल) को गलती से डिलीट कर दिया है, तो तत्काल Undo आदेश देकर उन्हें वापस लाया जा सकता है| कॉलम की विड्थ तथा सैल्स की हाईट बदलना (Changing Width of Columns and Height of Cells) विड्थ बदलना (Changing Width) वर्कशीट में किसी कॉलम की विड्थ निम्नलिखित प्रकार से बदली जा सकती है- (i) Go to Home tab – Cells group – Format drop down list – Column click on width a column width dialog box will appear. (ii) Fill the width in it and click ok. Width will हाईट बदलना (Changing Height) वर्कशीट में किसी सेल की हाईट निम्नलिखित प्रकार बदली जा सकती है- (i) Choose the desired rows and go to Home tab – Cell group – Click on Row Height. A dialog box will appear. (ii) In this dialog box, enter the Row height and click k. the height will he set. रो, कॉलम तथा सेल क्लियर करना (Clearing Rows, Columns or Cells) वर्कशीट का कोई भाग क्लियर करने का अर्थ है उसमे भरे हुए डेटा को हटाना और फोर्मेटिंग को भी समाप्त करना | इसके लिए निम्नलिखित स्टेप्स है- (i) Choose the part of the worksheet, which is to be deleted. (ii) Go to Home tab – Editing group – Take pointer to the clear drop down list. It will open a sub menu. (iii) If you want to clear only format, then click clear format and if you want to remove data only, then click on Clear contents. To remove both data and Format, click on clear All. (iv) If user want to delete only data and not format then choose that part and press Del key. फंक्शन तथा चार्ट (Functions and Charts) एक्सेल में सेल्स में विभिन्न गणनाओ को करने के लिएय विभिन्न फोर्मुलो का तथा डाटा को ग्राफिक्स रूप में दर्शाने के लिए चार्टो का प्रयोग किया जाता है | Predefined formulas in MS-Excel are called functions. Functions perform calculations on the values provided to then as arguments. Two important parts of any function are arguments and structure. The values or cells references structure of functions means the way, we write a function in a cell. एम् एस एक्सेल में तैयार की गयी वर्कशीट के सैल्स में की गयी प्रविष्टियो से विभिन्न गणनाओ को करने के लिए इसमें विभिन्न फोर्मुलो का तथा डेटा को ग्राफिकल रूप में दर्शाने के लिए चार्ट का प्रयोग किया जाता है |

फ़ॉर्मूला का उपयोग (Use of Formulas) स्प्रैडशीट में फोर्मुलो का बहुत महत्त्व है जब भी कोई गणना जैसे – किसी कॉलम के कुछ सैलो को जोड़ना, एक संख्या का दुसरे से गुणा करना, किसी रेंज के डेटा का औसत निकालना आदि होती है तो फ़ॉर्मूलो का प्रयोग किया जाता है | उदाहरण के लिए, यदि यूजर किसी सैल E5 में सैलो, A5, B5, C5 तथा D5 का योग दिखाना चाहते है तो उस सैल में फ़ॉर्मूला = ‘A5 + B5 + C5 + D5’ इस रूप में प्रविष्ट किया जायेगा | फ़ॉर्मूला प्रविष्ट करने के बाद Enter दबाइए | इस विधि में फ़ॉर्मूला टाइप करते समय कोई स्पेस नहीं देना चाहिए| सामान्यता किसी भी सैल का डेटा यूजर को नहीं दिखाई डेटा है, केवल उसका परिणाम दिखाई डेटा है | परन्तु परिणाम वाले सैल को चुनने से फ़ॉर्मूला बार में प्रदर्शित हो जाता है जहाँ से यूजर उसमे आवश्यकतानुसार फ़ॉर्मूला परिवर्तन कर सकता है| फ़ॉर्मूला ऑपरेटर्स (Formula Operators) विभिन्न ऑपरेटर्स का वितरण निम्नलिखित है-
  1. अंकगणितीय ऑपरेटर (Arithmetic Operators)
इनका उपयोग गणितीय क्रियाओ के लिए किया जाता है| + जोड़ना (Addition) – घटना (Subtraction) * गुणा करना (Multiplication) / भाग देना (Division) % प्रतिशत (Percentage) ^ घात (Exponentiation) कोई गणना करने के लिए इनका प्रयोग फोर्मुलो में सही स्थान पर किया जा सकता है | इनका प्रभाव अंकगणित के नियमो के अनुसार ही होता है| उदाहरण के लिए, फ़ॉर्मूला = ‘D4*10% द्वारा सैल D4 में रखी गयी संख्या का 10% ज्ञात किया जायेगा | इसी तरह फ़ॉर्मूला = ‘C4^2’ द्वारा सैल C4 की संख्या के वर्ग (Square) की गणना की जाएगी | इन ऑपरेटरो के साथ कोष्ठको (‘तथा’) का प्रयोग करके यूजर अधिक जटिल या मिश्रित फ़ॉर्मूले भी बना सकते है, जैसे- = ’C5 * (B4 + B5) – (C2 * 10%)’
  1. तुलना ऑपरेटर (Comparison Operator)
इसके द्वारा हम दो मानो (values) की आपस में तुलना करते है और उसके परिणाम के अनुसार कार्य करते है | ये ऑपरेटर निम्नलिखित है – = बराबर (Equal to) > बड़ा (Greater than) >= बड़ा या बराबर (Greater than or equal to) < छोटा या बराबर (Less than) <= छोटा या बराबर (Less than or equal to) != बराबर नही (Not equal to) इन ऑपरेटरो का प्रयोग सामान्यतया स्प्रेडशीट के तार्किक फलनो (Logical Functions) के साथ किया जाता है|
  1. पाठ्य ऑपरेटर (Text Operator)
स्प्रेडशीट में केवल एक ऐसा ऑपरेटर ‘&’ (एम्परसेंट) ऐसा है | जिसका प्रयोग टेक्स्ट को जोड़ने में किया जाता है | उदाहरण के लिएय, यदि सैल B4 में ‘Aero’ है और सैल B6 में ‘plane’ तो फ़ॉर्मूला ‘= B4&B5’ उनको मिलाकर पाठ्य ‘Aeroplane’ बनाएगा|
  1. सन्दर्भ ऑपरेटर (Reference Operator)
स्प्रेडशीट में सैलो का सन्दर्भ देने के लिए सन्दर्भ ऑपरेटरो का प्रयोग किया जाता है | सबसे अधिक प्रचलित ऑपरेटर ‘:’ (कोलन) है| इसका प्रयोग किसी रेंज को बताने के लिए किया जाता है | उदाहरण के लिए, रेंज, A4 : C8 का अर्थ है – सैल A4, सैल C8 तथा इनके बीच आने वाले सभी सैल | फोर्मुलो का गणना क्रम (Order of Evaluation of Formulas) फ़ॉर्मूलो से प्राप्त परिणाम, उसमे प्रयोग किये गये ऑपरेटर्स की प्राथमिकता पर निर्भर करता है| ऑपरेटरो की प्राथमिकता का क्रम निम्नलिखित प्रकार है- :      रेंज सन्दर्भ (Range Reference) –              ऋणात्मक संख्या (Negative Number) %            प्रतिशत (Percentage) ^             घातांक (Exponentiation) *             गुणा (Multiplication) /              भाग (Division) +             जोड़ (Addition) –              घटाव (Subtraction) &             पाठ्य का जोड़ =             या <> या < = या > = या > या < तुलना समान प्राथमिकता के ऑपरेटरों की गणना बाई और से दाई और की जाती है | यदि यूजर इस क्रम के अलावा किसी दुसरे क्रम में गणना करना चाहते है तो उसके लिए आपको कोष्ठको का प्रयोग करना चाहिए, यदि कई कोष्ठक हो तो सबसे भीतर वाले कोष्टक की गणना पहले की जायेगी | इसमें गणित के साधारण नियमो का पालन किया जाता है | You may also Like Like Our Facebook Page for More CCC Question Answers CCC Study Material and Notes in English and Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *