Maxen Computer Education

RTET REET Model Sample Questions Answer Paper Hindi

Answers to RTET REET Model Sample Questions Answer Paper Hindi Page 2

11. बालक की वह अवस्था जिसमे उसका खेलकूद सम्बन्धी रूचि के प्रति अधिकतम विकास होता है

  1. प्राथमिक बाल्यवस्था
  2. पूर्व-किशोरावस्था
  3. प्रारम्भिक-किशोरावस्था
  4. अंतिम-किशोरावस्था

12. भय संवेग तथा क्रोध में निकटतम सम्बन्ध है”- इस तथ्य की उपयुक्त व्याख्या की उपयुक्त व्याख्या निम्न में से किसके द्वारा की जा सकती है ?

  1. दोनों के अन्तार्निर्हित कारको में समानता द्वारा
  2. क्रोध से उत्पन्न अनुबन्धं द्वारा
  3. दू:ख की समरूप भावना द्वारा
  4. दोनों में समरूपता द्वारा

13. करीब 11 वर्ष की उम्र में बालको में निम्न में से किस क्षेत्र में लैंगिक परिवर्तन मुखर होने लगते है ?

  1. शारीरिक शक्ति के क्षेत्र में
  2. उत्तम मांसपेशिय समन्वयन के क्षेत्र में
  3. व्यक्तित्व विकास के क्षेत्र में
  4. बौद्धिक विकास के क्षेत्र में

14. एक बालक के व्यवहार पर निम्न में से कौन-सा व्यवहार न्यूनतम प्रभाव डालता है ?

  1. वातावरण सम्बन्धी शक्तियाँ
  2. ग्रन्थिय असन्तुलन
  3. व्यक्ति की आवश्यकताओ की असन्तुष्टि
  4. मुल्प्रव्रत्तिया

15. शिशुओ के व्यवहार में जो सम्पूर्ण गति प्रकट होती है उसकी व्याख्या निम्न में से किस आधार पर की जा सकती है ?

  1. शिशु के उच्चतम उत्तेजना के आधार पर
  2. शिशु के केन्द्रिय स्नायु तन्त्रिका विकास के आधार पर
  3. शिशु में विधमान अधिकतम उर्जा शक्ति के आधार पर
  4. शिशु के मस्तिष्क में निम्नतम विभेदनशीलता के आधार पर

16. निम्न में से वह कथन जो शिशु के व्यवहार को प्रदर्शित करता है

  1. विभेदनशीलता
  2. सामान्यीकरण
  3. जन्मजातगुण
  4. एकात्मक

17. बालको के शारीरिक आकर में वृद्धि प्राय: निम्नलिखत सभी कारको से प्रभावित होती है किन्तु वर्तमान शोध अद्द्यनो ने निम्नलिखित कारको को अमान्य घोषित किया है

  1. सामाजिक आर्थिक स्तर
  2. युद्ध एवं उनसे उत्पन्न विभीषिकाए
  3. मानसिक आयु
  4. मांसपेशिय समंजन

18. प्रारम्भिक बाल्यवस्था के सम्बन्ध में वह कथन जो वातावरण सम्बन्धी प्रभावों के विषय में सत्य है ?

  1. जन्म होने तक वातावरण का प्रभाव बालक पर नही पड़ता है
  2. वातावरण सम्बन्धी कारक गर्भस्थ शिशु के विकास को प्रभावित नही कर सकते है
  3. बालक का प्राकृतिक व्यवहार उस समय तक रूपान्तरित नही किया जा सकता है, जब की बालक में शिक्षण द्वारा सिखने का विवेक उत्पन्न नही हो पाता है
  4. जो भी परिवर्तन बालक के अनुवांशिकता में किये जा सकते है वे बालक के वंशानुक्रम प्रतिमानों से सम्बन्धित होते है

19.शिशु विकास के सन्दर्भ में वैयक्तिकता का तात्पर्य है

  1. विभिन्न सामाजिक नियमो के मती विभेद करना
  2. शिशुओ के क्रियाकलापों की पूर्व क्रियाकलाओ से तुलनात्मक स्तिथि ज्ञात करना
  3. शिशु द्वारा पारिवारिक नियमो का विरोध करना
  4. शिशु में विशिष्ट योग्यताओ का विकास

20. बालको में पूर्व-बाल्यवस्था सम्बन्धी जो व्यवहार प्रकट होता है, वह है

  1. मुल्प्रव्रत्यात्म्क
  2. स्थानीय पर्तिवृत
  3. यादुछिकृत क्रियाए
  4. सम्पूर्ण शरीर से क्रियाएं

Answers to RTET REET Model Sample Questions Answer Paper Hindi Page 2

  1. 2
  2. 3
  3. 2
  4. 4
  5. 2
  6. 2
  7. 4
  8. 4
  9. 2
  10. 4

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *