SSC CGL TIER 1 Coulomb’s Law Study Material In Hindi

SSC CGL TIER 1 Coulomb’s Law Study Material In Hindi

SSC CGL TIER 1 Coulomb’s Law Study Material In Hindi

कूलॉम का नियम

SSC CGL TIER 1 Coulomb’s Law Study Material In Hindi
SSC CGL TIER 1 Coulomb’s Law Study Material In Hindi

दो स्थिर विद्युत आवेशों के बीच लगने वाला आकर्षण अथवा प्रतिकर्षण बल दोनों आवेशों की मात्राओं के गुणनफल के अनुक्रमानुपाती एवं उनके बीच की दूरी के वर्ग के व्युत्कमानुपाती होता है।

Electric Cell Study Material In Hindi

विद्युत सेल

विद्युत सेल दो प्रकार के होते हैं

  1. प्राथमिक सेल
  2. द्वीतीय सेल
  • प्राथमिक सेलों में रासायनिक ऊर्जा को सीधे विद्युत ऊर्जा में परावर्तित किया जाता है, उसके बाद वह बेकार हो जाता है।
  • वोल्टीय सेल, लेक्लांशे सेल, डेनियल सेल, शुष्क सेल प्राथमिक सेल के उदाहरण हैं।

Know Electric Current For SSC CGL TIER 1

विद्युत धारा

  • किसी चालक में विद्युत आवेश के प्रवाह की दर को विद्युत धारा कहते हैं। इसका मात्रक ऐम्पियर है। यह एक सदिश राशि है।
  • घरों में दो जाने वाली धारा की आवृत्ति 50 हर्ट्ज होती है।

Ohm’s Law Study Material In Hindi

ओम का नियम

  • चालक के सिरों पर लगाया गया विभवान्तर उसमें प्रवाहित धारा के अनुक्रमानुपाती होता है।

I=V/R  जहाँ, R प्रतिरोध है।

  • धातुओं का ताप बढ़ाने पर उनका प्रतिरोध बढ़ता जाता है।
  • अर्द्धचालकों का ताप बढ़ाने पर उनका प्रतिरोध घटता जाता है।
  • विद्युत अपघट्य का ताप बढ़ाने पर उनका प्रतिरोध घट जाता है।
  • धातुओं का विशिष्ट प्रतिरोध केवल धातुओं के पदार्थ पर निर्भर करता है। यदि किसी तार को खींचकर उसकी लम्बाई को बढ़ा दिया जाता है, तो उसका प्रतिरोध बदल जाता है लेकिन उसका विशिष्ट प्रतिरोध अपरिवर्तित रहता है।
  • किसी चालक के विशिष्ट प्रतिरोध के व्युत्क्रम को चालक की विशिष्ट चालकता कहते हैं। इसका मात्रक (ओम मीटर -1) होता है। अमीटर विद्युत धारा को एम्पियर में मापने के लिए अमीटर नामक यन्त्र का प्रयोग किया जाता है। इसे सदैव श्रेणीक्रम में लगाया जाता है। आदर्श अमीटर का प्रतिरोध शून्य होता है।

SSC CGL Study Material Sample Model Solved Practice Question Paper with Answers

Join Our CTET UPTET Latest News WhatsApp Group

Like Our Facebook Page

Leave a Comment

Your email address will not be published.