DOEACC CCC Study Material Notes कंम्प्यूटरों का इतिहास History of Computer

DOEACC CCC Study Material Notes कंम्प्यूटरों का इतिहास History of Computer

DOEACC CCC Study Material Notes कंम्प्यूटरों का इतिहास History of Computer : DOEACC CCC Study Material Notes कंम्प्यूटरों का इतिहास History of Computer:- इस पोस्ट में आपको मिलेगीं कंम्प्यूटरों का इतिहास (History of Computer) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे CCC कम्प्यूटर की पीढियाँ (Generations of Computer) Notes और बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारी

DOEACC CCC कम्प्यूटरों का इतिहास (History of Computer) Study Material in Hindi


हालाँकि आधुनिक कम्प्यूटर को अस्तित्व मे आए हुए मुश्किल से 50 वर्ष ही हुए है, लेकिन उनके ऴिकास का इतिहास बहुत पुराना है। कम्प्युटर का जो रूप हम आजकल देख रहे हैं, वह अचानक ही प्राप्त नहीं हुआ, बल्कि यह हजारों वर्षों की वैज्ञानिक खोजों और चिन्तन का फल है।
जबसे मनुष्य ने गिनना सीखा है, तभी से उसका यह प्रयास रहा है की गणना करने में सहायता करने वाले यन्त्रों का निर्माण किया जाए। संख्या पद्धति (Number System) के प्रयोग तथा भारतीय गणितज्ञों द्धारा शून्य का आविष्कार किए जाने के बाद मानव के लिए संख्याओं का महत्व बहुत बढ़ गया था, इसलिए गणना में सहायक यन्त्रों की आवश्यकतका अनुभव की जाने लगी। इसके परिणामस्वरूप सबसे पहले गिनतारा (Abacus) अस्तित्व में आया और बाद में भी कई यन्त्रों का निर्माण किया गया। इनका संक्षिप्त परिचय नीचे दिया जा रहा है।
Knowledge about the history/evolution of computers gives us a deeper understanding of the origin and the gradual mechanical to electro-mechanical to electronic technological changes, that have brought the kind of computers we see today and helps us to predict how they will be in future.

YearInventorInvention
16th CenturyChinaAbacus
1617John NapierNapier’s Bones
1642Blaise PascalFirst calculating machine (Pascal’s Machine)
1671Gottfried Wilhelm LeibnitzCalculator (Modified Pascal’s Machine)
1801Joseph JacquardCard of holes for weaving pattern (Punched Cards)
1822-1833Charles babbageDifference engine, Analytical engine
1887Herman HollerithTabulating machine using punch cards (Hollerith’s Machine)
1943Howard AikenMARK-1

Note Charles Babbage is known as the father of Computers.

CCC कम्प्यूटर की पीढ़ीया (Generations of Computer) Notes in Hindi

दूसरे विश्वयुद्ध के बाद कम्प्यूटरों का विकास बहूत तेजी से हुआ और उनके आकार-प्रकार में भी बहुत परिवर्तन हुए। आधुनिक कम्प्यूटरों के विकास के इतिहास को तकनीकी विकास के अनुसार कई भागों में बाँटा जाता है, जिन्हें कम्प्यूटरों की पीढ़ियाँ कहा जाता है। अभी तक कम्प्यूटरों की पाँच पीढियाँ अस्तित्व में आ चुकि हैं। जिस तरह मनुष्य की विभिन्न पीढियाँ अपने रहन-सहन, आचार-विचार तथा परम्पराओं में एक-दूसरे से अलग-अलग होती हैं, उसी प्रकार विभिन्न पीढ़ियों के कम्प्यूटर तकनीकी दृष्टि से होते हैं।

1.पहली पीढी (First Generation)(1945-1959)

इस पीढी के कम्प्यूटरों में वैक्यूम ट्यूबों का प्रयोग किया जाता था। ये कम्प्यूटर आकार में काफी बडे, भारी तथा गर्मी पैदै करने वाले होते थे।

The first generation computers used thermionic valves Vacuum tubes. Machine languages  were used for giving instructions. The computers in this generation were very large in size and their programming was a difficult task.

2. दूसरी पीढ़ी (Second Generation) (1959-1965)

इस पीढ़ी के कम्प्यूटरों में वैक्यूम ट्यूब की जगह ट्रांजिस्टर्स का प्रयोग होने लगा। ये कम्प्यूटर पहली पीढ़ी के कम्प्यूटरों की तुलना में छोटे, तेज तथा विश्वसनीय थे तथा इनकी लागत भी कम थी।

Second generation of computers emerge around 1959 when transistor was invented in 1947, and where made of termanium semiconductor material which are highly reliable as compared to vacuum tube since they had no filament to burn.

3.तीसरी पीढ़ी (Third generation) (1965-1971) 

तीसरी पीढ़ी में इंटीग्रेटेड सर्किट्स का प्रयोग किया गया, जिससे कम्प्यूटर तुलनात्मक रूप से भरोसेमन्द और तेज हो गए।

The third generation of computer is marked by the use of Integrated Circuits (IC’s) in place of transistors. A single IC has many transistors, registors and capacitors along with the associated and capacitors along with the associated circuitry.

The development of the integrated circuit was the hallmark of the third generation of computers which drastically increased the speed and efficiency of these computers.

4.चौथी पीढ़ी (fourth generation) (1971-Present)

इस पीढ़ी के कम्प्यूटरों में मॉइक्रो प्रोसेसर तकनीक का उपजोग किया गया है। सिलिकॉन चिप पर कम्प्यूटर के सभी एकीकृत परिपथों को लगाया जाता है, जिसे माइक्रो प्रोसेसर (Micro Processor) कहा जाता है।

वास्तव में ये अति वृहद एकीकृत परिपथ (Very large  Sacle Intergrated circuit या VLSI) जिनमें एक माइक्रो चिप पर हजारों-लाखों ट्रांजिस्टरों को जमा दिया जाता है। इन चिपों का उपयोग करने वाले कम्प्यूटरों को माइक्रो कम्प्यूटर (Micro computer) कहा जाता है।

The fourth generation of computers emerged with the very Large  Scale Integrated (VLSI) Circuits which packed about thousands of transistors in a single chip. The emergence of the microprocessor led to the emergence of extremenly powerful small computers.

As these small computers became more powerful, they could be linked together to form networks’ which eventually led to the development of the internet. Fourth generation computers also saw the develop. Ment of GUIs, the mouse and handheld devices.

5.पाँचवीं पीढ़ी (Fifth Generation) (Present and Beyond)

इस पीढी को विकसित करने का प्रयास चल रहा है, जिनमें कम्प्यूटिंग की ऊँची क्षमताओं के साथ-साथ तर्क (Logic) करने, निर्णय लेने (Decision Making) तथा सोचने (Thinking) की भी सामर्थ्य हो। इनको पाँचवीं पीढ़ी के कम्प्यूटर कहा जा रहा है।

अभी तक के सभी कम्प्यूटरों का मुख्य जोर डाटा प्रोसेसिंग (Data Processing) पर रहा है, जबकि इस पीढ़ी के कम्प्यूटरों का जोर ज्ञान प्रोसेसिंग knowledge Processing) पर होगा। वैज्ञानिकों का दावा है कि ये कम्प्यूटर बहुत हद तक मानव मस्तिष्क जैसे होंगे।

In the fifth generation, the VLSI Technology will become ULSI (Ultra Large Scale Intergration) technology resulting in the production of microprocessor chips having ten million electronic components.

This generation is based on parallel processing hardware and superconductor, which help to make artificial intelligence a reality. This generation’s computers will be a symbol of intelligence due to invention of robotics.

Back to Index -(CCC Study Material / Notes in Hindi and English)

Like Our Facebook Page for More CCC Study Material and Notes

See Also : CCC Question Answers/Papers

Leave a Comment

Your email address will not be published.