68500 Assistant Teacher Bharti Science Model Question Answer in Hindi

68500 Assistant Teacher Bharti Science Model Question Answer  in Hindi

68500 Assistant Teacher Bharti Science Model Question Answer  in Hindi

68500 Assistant Teacher Bharti Science Model Question Answer in Hindi
68500 Assistant Teacher Bharti Science Model Question Answer in Hindi

प्रश्न – प्रकाशिक यंत्र का वर्णन कीजिए।

उत्तर – किसी भी प्रकाशीय यंत्र में, जिसमें लेंसों, दर्पणों या प्रिज्मों का इस्तेमाल होता है, अपवर्तन की घटना का उपयोग होता है।

प्रश्न – प्रकाशित यंत्र का उपयोग कहां किया जाता है?

उत्तर – प्रकाशित यंत्रों का उपयोग प्रकाश किरणों का मार्ग बदलने में किया जाता है।

प्रश्न – उत्तल एवं अवतल लेंस किस प्रकार के होते हैं?

उत्तर – जो लेंस बीच में मोटे होते हैं, अभिसारी लेंस (उत्तल लेंस) कहलाते हैं।

जो लेंस बीच में पतले होते हैं, वे अपसारी (अवतल लेंस) कहलाते हैं।

प्रश्न – निकट दृष्टि दोष स्पष्ट कीजिए।

उत्तर – कुछ व्यक्ति दूर की वस्तुओं को स्पष्ट देख नहीं पाते। दूरी पर स्थित वस्तु का प्रतिबिंब रेटिना पर न बनकर उसके सामने (से पहले) बन जाता है। यह निकट दृष्टि दोष कहलाता है।

प्रश्न – निकट दृष्टि दोष का निवारण किस प्रकार होता है?

उत्तर – निकट दृष्टि दोष युक्त आंख के लिए अवतल लेंस प्रयुक्त किया जाता है।

प्रश्न – दूर दृष्टि दोष स्पष्ट कीजिए।

उत्तर – कुछ व्यक्ति निकट रखी वस्तुओं को स्पष्ट देख नहीं पाते। निकट रखी वस्तुओं के प्रतिबिंब रेटिना में न बनकर उसके पीछे बनते है। इसे दूर दृष्टि दोष कहते हैं।

प्रश्न – दूर दृष्टि दोष का निवारण किस प्रकार होता है?

उत्तर – दूर दृष्टि दोष युक्त आंख के लिए उत्तल लेंस युक्त चश्मा प्रयुक्त किया जाता है।

प्रश्न – त्वचा का क्या कार्य हैं?

उत्तर – बाहरी चोटों से रक्षा करना, शरीर को आकृति प्रदान करना, शरीर का ताप संतुलन, उपापचयी क्रियाओं में बने अपशिष्ट तथा अधिक पानी का उत्सर्जन करना त्वचा के कार्य हैं।

प्रश्न – पेशियों का क्या कार्य है?

उत्तर – पेशियां शरीर के विभिन्न अंगों को घुमाने तथा शरीर के भीतरी अंगों की रक्षा करती हैं।

प्रश्न – कंकाल का क्या उपयोग है?

उत्तर – कंकाल तथा अस्थियां शरीर के ढांचे का निर्माण कर निश्चित आकार प्रदान करते हैं। गति में सहायता करते हैं।

प्रश्न – आहार तंत्र के अंग कौन-कौन से हैं?

उत्तर – आहार तंत्र के अंग हैं- मुखगुहा, जीभ, दांत, ग्रसिका, आमाशय, छोटी आंत, बड़ी आंत, गुदा (मलद्वार), यकृत, अग्नाशय आंत्रीय-ग्रंथियां।

प्रश्न – श्वसन तंत्र क्या कार्य करता है?

उत्तर – शरीर तथा वातावरण और कोशिका व उसके पर्यावरण के मध्य गैसों का आदान-प्रदान करना श्वसन तंत्र का कार्य है।

प्रश्न – रक्त परिसंचरण तंत्र के क्या कार्य हैं?

उत्तर – पोषक पदार्थ व ऑक्सीकृत रक्त को शरीर के विभिन्न अंगों की ओर ले जाना तथा उपापचयी अपशिष्ट पदार्थों जैसे- कार्बन डाइऑक्साइड को शरीर के विभिन्न भागों से एकत्र करना। शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाना रक्त परिसंचरण तंत्र का कार्य है।

प्रश्न – उत्सर्जन तंत्र के अंतर्गत कौन-से अंग आते हैं?

उत्तर – उत्सर्जन तंत्र के अंग हैं- वृक्क, मूत्रवाहिनी, मूत्राशय, मूत्र मार्ग।

प्रश्न – प्रोटोजोआ कैसे जीव हैं?

उत्तर – प्रोटोजोआ एककोशिकीय जीव हैं।

प्रश्न – स्पंज क्या हैं?

उत्तर – स्पंज मुक्त कोशिकाओं का एक समूह है, जो ऊतक नहीं बनाते।

प्रश्न – कोशिका की खोज किसने की थी?

उत्तर – कोशिका की खोज रॉबर्ट हुक ने 1665 ई. में की थी।

प्रश्न – कोशिका के मुख्य भाग कौन-से होते हैं?

उत्तर – सभी कोशिकाओं में मुख्य तीन भाग होते हैं- कोशिका झिल्ली, कोशिकाद्रव्य तथा केंद्रक।

प्रश्न – माइटोकॉन्ड्रिया का क्या कार्य है?

उत्तर – माइटोकॉन्ड्रिया कोशिकीय श्वसन में भाग लेते हैं।

प्रश्न – प्लास्टिड प्राकृतिक रुप से कहां पाए जाते हैं?

उत्तर – प्लास्टिड केवल हरे पौधों में स्थित होते हैं और ये प्रकाश संश्लेषण की क्रिया द्वारा सौर ऊर्जा को बांध देते हैं।

प्रश्न – कोशिका में आत्मघाती दस्ता किसे कहते हैं?

उत्तर – लाइसोसोम से एक रसायन स्त्रावित होता है, जो स्वयं कोशिका को ही नष्ट कर देता है। इन्हें कोशिका का आत्मघाती दस्ता भी कहते हैं।

प्रश्न – जीवों की सबसे छोटी कार्यात्मक इकाई क्या है?

उत्तर – कोशिका जीवित प्राणी की सबसे छोटी कार्यात्मक इकाई है।

प्रश्न – कोशिका में अर्ध सूत्री विभाजन कब होता है?

उत्तर – कोशिका में अर्धसूत्री विभाजन केवल जनन कोशिकाओं के निर्माण के समय ही होता है।

प्रश्न – कोशिका विभाजन कितने प्रकार के होते हैं?

उत्तर – कोशिका विभाजन तीन प्रकार के होते हैं- असूत्री विभाजन, समसूत्री विभाजन व अर्धसूत्री विभाजन।

प्रश्न – प्रजनन क्या होता है?

उत्तर – प्रजनन सजीव प्राणियों का एक ऐसा अभिलक्षण है, जो जीवन की निरंतरता बनाए रखने के लिए अत्यावश्यक है।

प्रश्न – हमारे भोजन के मुख्य अवयव क्या हैं?

उत्तर – हमारे भोजन के मुख्य अवयव कार्बोहाइड्रेट, वसा, प्रोटीन, विटामिन तथा खनिज हैं।

प्रश्न – संतुलित भोजन का क्या महत्व है?

उत्तर – संतुलित भोजन में सभी अवयव उपस्थित होते हैं तथा ये शरीर की आवश्यकता के अनुरुप बदलते रहते हैं।

प्रश्न – वे पदार्थ कौन-से हैं जो भोजन के मुख्य अवयव तो हैं लेकिन मुख्य पोषक तत्व नहीं हैं?

उत्तर – जल तथा रुक्ष अंश भोजन के मुख्य पोषक तत्व नहीं हैं, परंतु ये भोजन के मुख्य अवयव हैं।

प्रश्न – स्वपोषी किसे कहते हैं?

उत्तर – वे जीव जो अपना भोजन स्वयं बनाते हैं उन्हें स्वपोषी कहते हैं।

प्रश्न – परपोषी किसे कहते हैं?

उत्तर – वे जीव जो अपने भोजन के लिए अन्य पर निर्भर रहते हैं उन्हें परपोषी कहते हैं।

प्रश्न – स्वपोषी तथा परपोषी के उदाहरण दीजिए।

उत्तर – पौधे-स्वपोषी, पशु तथा मनुष्य परपोषी पर्कृति के होते हैं।

प्रश्न – कार्बोहाइड्रेट स्टॉर्चयुक्त खाद्य पदार्थ किन पदार्थ में मिलते हैं?

उत्तर – चावल, गेहूँ, मक्का, आलू, साबूदाना, मटर, सेम, फल, शहद, गुड़, शक्कर आदि में कार्बोहाइड्रेट प्रचुर मात्रा में मिलता है।

प्रश्न – प्रोटीन किन पदार्थों में मिलता हैं?

उत्तर – दालें, अनाज, दले हुए तथा अंकुरित आहार, मूंगफली, फली समुदाय के फलों में (सायोबीन) में प्रोटीन मिलता है।

प्रश्न – पशु-उत्पाद क्या हैं?

उत्तर – मांस, दूध, दही, पनीर, अंडा, चीज, मछली आदि पशु उत्पाद हैं।

प्रश्न – विटामिन ए (रेटिनोल) किन पदार्थों में मिलता हैं?

उत्तर – पत्तेदार सब्जियां, गाजर, आम, मछली, यकृत, दूध, हरी पत्तेदार सब्जियों आदि से विटामिन-ए प्राप्त होता है।

प्रश्न – विटामिन बी4 (राइबोफ्लेविन) के स्त्रोत क्या हैं?

उत्तर – दूध, हरी पत्तेदार सब्जियां, मटर, फली-युक्त उत्पाद, मांस, अंडे आदि विटामिन बी4 के स्त्रोत हैं।

प्रश्न – विटामिन बी12 के स्त्रोत क्या हैं?

उत्तर – मांस, यकृत, दूध विटामिन- बी12 के स्त्रोत हैं।

प्रश्न – विटामिन–सी (एस्कॉर्बिक एसिड) किसमें पाया जाता हैं?

उत्तर – विटामिन-सी नींबू, संतरा (सिट्रस समुदाय के खाद्य उत्पाद में) आदि में पाया जाता हैं।

प्रश्न – विटामिन डी (केलासिफेरोल) के स्त्रोत लिखिए?

उत्तर – विटामिन डी के स्त्रोत हैं- मछली, दूध, सूर्य का प्रकाश तथा यकृत ऑयल।

प्रश्न – प्रोटीन की मूल इकाई क्या हैं?

उत्तर – प्रोटीन अवयव की मूल इकाई एमीनो अम्ल है।

प्रश्न – कैल्शियम के मुख्य स्त्रोत क्या हैं?

उत्तर – कैल्शियम के मुख्य स्त्रोत हैं- दूध, मक्खन, हरी पत्तेदार सब्जियां, दूध के बने उत्पाद आदि।

प्रश्न – पेलाग्रा रोग किसकी कमी से होता है?

उत्तर – पेलाग्रा रोग विटामिन बी4 की कमी से होता हैं।

प्रश्न – पेलाग्रा के क्या लक्षण हैं?

उत्तर – पेलाग्रा पीड़ित व्यक्ति के मसूड़ों में सूजन, एग्जिमा तथा डायरिया होता है।

प्रश्न – स्कर्वी रोग किसकी कमी से होता है?

उत्तर – विटामिन सी की कमी से स्कर्वी रोग होता है। स्कर्वी रोग में मसूड़ों में सूजन होती है।

प्रश्न – रिकेट्स रोग किसकी कमी से होता है और उसके क्या लक्षण हैं?

उत्तर – रिकेट्स विटामिन डी की कमी से होता है और इससे पीड़ित व्यक्ति की हड्डियां कमजोर होती हैं।

प्रश्न – रतौंधी किसकी कमी से होता है?

उत्तर – रतौंधी विटामिन A की कमी से होता हैं।

प्रश्न – रतौंधी का प्रमुख लक्षण क्या है?

उत्तर – रतौंधी रोग से पीड़ित रोगी को अंधेरे में कम दिखाई पड़ता हैं।

प्रश्न – बेरी-बेरी रोग किसकी कमी से होता हैं?

उत्तर – बेरी-बेरी रोग विटामिन बी1 की कमी से होता है।

प्रश्न – बेरी-बेरी रोग के क्या लक्षण हैं?

उत्तर – बेरी-बेरी रोग से शरीर में कमजोरी आती है।

प्रश्न – सजीव और निर्जीव वस्तुओं मे कैसे भेद किया जाता है?

उत्तर – सजीव वस्तुएं कुछ जीवन प्रक्रियाओं को संपन्न कर सकती हैं, जैसे- भोजन करना, सांस लेना, वृद्धि, प्रजनन आदि; जबकि निर्जीव वस्तुएं इन सब प्रकार्यों को नहीं करती हैं।

प्रश्न – सजीव वस्तुओं की विशेषता क्या होती है?

उत्तर – सजीव वस्तुओं की अग्रलिखित विशेषताएं होती हैं- संचलन, पर्यावरण में परिवर्तनों पर प्रतिक्रिया करने की क्षमता, भोजन और पोषण, श्वसन, मल-मूत्र त्याग, संवृद्धि तथा प्रजनन आदि।

प्रश्न – संवृद्धि किसका अभिलक्षण है?

उत्तर – संवृद्धि सजीव वस्तुओं का अभिलक्षण है। जीव के आकार में बढ़ोत्तरी को संवृद्धि कहा जा सकता है।

Join Our CTET UPTET Latest News WhatsApp Group

Like Our Facebook Page

Leave a Comment

Your email address will not be published.